GK/GS

NDRF Kya Hota Hai – NDRF Ka Kya Kaam Hota Hai

NDRF ka full Form kya hota hai?

NDRF full form यानि इसका पूरा नाम (National Disaster Response Force) है जिसे हिंदी भाषा में‘राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल’ कहा जाता हैं जो प्राकृतिक आपदाओं से जनसामान्य की रक्षा करती है और उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाती है।

भारत एक ऐसा देश है जिसमें विभिन्न प्रकार की ऋतुओ का आगमन होता हैं जो हमें प्राकृतिक के कई प्रकार के स्वरूपो का आभास कराती हैं परन्तु अक्सर मानसून के समय प्राकृतिक आपदाओं से जान-माल की हानि भी होती है इसलिए NDRF पुलिस बल का निर्माण किया गया है। राष्ट्रीय आपदा राहत बल (National Disaster Response Force, NDRF) एक पुलिस बल है।

NDRF का निर्माण ”डिजास्टर मैनेजमेंट ऐक्ट 2005” के तहत किया गया था। इस पुलिस बल का मुख्य कार्य किसी आपातकाल या आपदा के समय अति विशेषज्ञता के साथ संगठित होकर प्रभावितों को उचित और सुरक्षित स्थान पर ले जाना (बचाना) या उनके जान माल की रक्षा करना होता है। भारत में आपदा प्रबंधन की शीर्ष संस्था राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (NDMA) है। इस संस्था का मुखिया प्रधानमंत्री होता है। भारतीय गणराज्य में आपदा प्रबंधन का जिम्मा वहां की राज्य सरकार पर होता है। भारत सरकार का गृह मंत्रालय सभी राज्य इकाईयों में समन्वय का काम करती है।

अत्यधिक गंभीर मामलों में भारत सरकार की जिम्मेदारी होती है, कि प्रभावित राज्य सरकारों की आग्रह पर सैन्य बल, NDRF, वैज्ञानिक उपकरण, आर्थिक मदद, केंद्रीय पैरामिलिट्री बल व अन्य तरह की मदद प्रभावित राज्यों में भेजे। वहीं राष्ट्रीय आपातकाल परिचालन केंद्र (NEOC) का कार्य 24 घंटे सक्रिय रहते हुए आपदा जैसी परिस्थियों का पुर्वानुमान लगाना है।

NEOC महाराष्ट्र में स्थित है। NEOC केंद्रीय पर्यावरण संस्थाओं जैसे की मौसम विभाग, केंद्रीय जल आयोग, पर्वत व हिमस्खलन अनुसंधान संस्थान और तमाम अन्य से मौसम संबंधी जानकारियों को एकत्र करना और उन पर रिसर्च करना है। NEOC द्वारा जुटाई गयी सूचनाएं आम नागरिकों के लिये अपनी वेबसाईट पर भी मुहैया कराना है। राष्ट्रीय आपदा राहत बल (NDRF) राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (NDMA) के आधीन कार्य करती है। NDRF के शीर्ष अधिकारी को डाएरेक्टर जनरल कहा जाता है। यह भारतीय पुलिस बलों से चुने गए IPS अधिकारी होते हैं।

NDRF के कार्य क्या है?

हमारे देश में किसी भी प्रकार की आपदा से हमारी रक्षा करने के लिए NDRF का निर्माण किया गया है जो प्राकृतिक आपदाओं के भयावह होने की स्थिति में प्रभावितों को सुरक्षित स्थान पर ले जाती है और जान-माल की रक्षा करती है।

NDRF (एनडीआरएफ) मे नौकरी कैसे पायें?

एनडीआरएफ एक पैरामिलिट्री लाइंस फ़ोर्स होती है, इसमें 12 बटालियन होती है | इसमें तीन बीएसएफ, दो सीआरपीएफ दो सीआईएसएफ दो आइटीबीपी और दो एसएसबी की बटालियन होती है | यह आपदा के समय, आपदा प्रभावित क्षेत्रों में जाकर लोगों की सहायता करते है | एनडीआरएफ में भर्ती होने के लिए आपको 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद SSB, ITBP, या CRPF में से किसी भी फ़ोर्स में भर्ती होना पड़ेगा |

NDRF बटालियनों की वर्तमान चौकियां

क्रम संख्याNDRF बटालियनराज्यसीपीएफ
1एनडीआरएफ गाजियाबादउत्तर प्रदेशITBP
2एनडीआरएफ भटिंडापंजाबITBP
3एनडीआरएफ कोलकाता
4एनडीआरएफ बटा. गुवाहाटीअसमBSF
5एनडीआरएफ बटा. मुन्डालीउडीसाCRPF
6एनडीआरएफ बटा. अराकोमतमिलनाडुCRPF
7एनडीआरएफ बटा. पुणेमहाराष्ट्रCRPF
8एनडीआरएफ बटा. गाँधी नगरगुजरातCRPF
9एनडीआरएफ बटा. पटनाबिहारBSF
10एनडीआरएफ बटा. विजयवाणाआन्ध्रप्रदेशCRPF

तो दोस्तों कैसी लगी हमारी यह NDRF kya hota hai की जानकारी मैं आशा करता हूँ कि आपको हमारी यह Post काफी पसंद आई होगी। तो आप यह जानकारी अपने दोस्तों के साथ Share कर सकते हैं। अगर आपको इससे सम्बन्धित जानकारी या अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए Comment Box के माध्यम से सूचना पहुँचा सकते।

About the author

Sarvesh Arora

Leave a Comment